You are here: Homeराष्ट्रीय समाचार राजनीति

Politics (172)

 
दादरा नगर हवेली के सीट से एक नए दादरा एवं नगर हवेली के निर्माण का संकल्प लेकर चुनाव मैदान में उतरी शिवसेना की युवा महिला प्रत्याशी अंकिता पटेल अपना चुनाव प्रचार जोर शोर से कर रही हैं,जिसमें युवाओं महिलाओं एवं बुजुर्गों का भरपूर सहयोग शिवसेना प्रत्याशी अंकिता पटेल को मिल रहा है।जिस तरह एक नए दादरा एवं नगर हवेली का संकल्प एवं प्रदेश के सर्वांगीण विकास का मुद्दा लेकर चुनाव लड़ रही अंकिता पटेल को जनता का भरपूर सहयोग मिल रहा है।बता दें कि कर्मठशील युवा महिला प्रत्याशी अंकिता पटेल पहली बार  शिवसेना से उम्मीदवारी कर रही हैं और इनको प्रदेश के तमाम वर्ग समुदायों का जोरदार समर्थन मिल रहा है।सोमवार को खानवेल विस्तार मैं अपनी चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए महिला प्रत्याशी अंकिता पटेल ने अपनी हुंकार भरी है जिसमें प्रदेश में आदिवासी समुदाय के उत्थान के लिए बेहतर शिक्षा,स्वास्थ्य, सड़क,बिजली,पानी,रोजगार जैसे विभिन्न विकासीय मुद्दों पर प्रकाश डाला,हर पेट को रोटी,हर खेत को पानी का संकल्प जन-जन तक पहुंचा रही अंकिता पटेल को जनता जनार्दन का भारी मात्रा में सहयोग भी मिल रहा है।सोमवार को खानवेल,वैलूगांव एवं सुरंगी में शिवसेना  महिला  उम्मीदवार अंकिता पटेल ने जनसभा की जिसमे हज़ारों की संख्या में समर्थकों की मौजूदगी रही,वही दूसरी ओर सैकड़ो नए कार्यकर्ता सहित कई युवा नोजवान ने अंकिता पटेल को समर्थन देकर प्रदेश का भविष्य बदलने के लिए उनके साथ चुनाव प्रचार करने तथा भारी जीत दर्ज कर शिवसेना प्रत्याशी अंकिता पटेल को आदिवासी समाज के समस्याओं को खत्म करने के लिए दिल्ली भेजने के तैयारी में जुट गए है।
Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

सिलवासा 16 अप्रैल। दादरा नगर हवेली लोकसभा सीट के निर्दलीय उम्मीदवार मोहन डेलकर ने मांदोनी- सिंदोनी पंचायत में चुनावी जनसभा आयोजित की। भारी संख्या में उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए मोहन डेलकर ने कहा कि शिक्षित युवाओं को नौकरी न मिले तबतक बेरोजगारी भत्ता दिलाऊंगा। उन्होंने कहा कि जंगल जमीन के मुद्दे पर जरुरत पडी तो लोकसभा में उठाऊंगा। गरीब आदिवासी परिवारों को राशन की दुकानों में और अधिक सुविधाएंं दिलाने का काम किया जायेगा। मोहन डेलकर ने कहा कि मांदोनी एवं सिंदोनी गांव का मजबूत संगठन ने आज मुझे काफी प्रभावित किया है। निर्दलीय उम्मीदवार मोहन डेलकर ने कहा कि आदिवासी खिलाडियों को सुविधाओं के साथ आगे बढाने का मेरा मुख्य उद्देश्य रहेगा। घर-घर पीने के शुद्ध पानी की समस्या का हमेशा के लिए निदान लाने की दिशा में प्रयास जारी रखुंगा। आदिवासी महिलाओं के लिए घर-आंगन में स्वरोजगार के अवसर उत्पन्न हो ऐसे कार्य किये जायेंगे। सिंदोनी पंचायत के सरपंच विपुल भुसारा ने जिला पंचायत द्वारा शुरु किये गये पीने के पानी के कार्य, रोड, स्ट्रीट लाईट सहित अनेक विकास कायार्ें को गिनाया। आदिवासियों की दशा एवं दिशा सुधारने का काम मोहन डेलकर ने ही किया है बताते हुए जिला पंचायत प्रमुख रमण काकवा ने खुली प्रसंशा की।

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn
 
 
सिलवासा:- दादरा नगर हवेली के खानवेल में आज शिवसेना की उम्मीदवार अंकिता पटेल को आदिवासी समाज का भारी संख्या में समर्थन मिला। अंकिता पटेल ने मतदाताओ से  कहा कि चुनाव के बाद पहले हो 2 वर्षो में मेरा विज़न रहेगा ग्रामीण विस्तारों में किसानों के लिए सभी सुविधाएं उपलब्ध कराना हर खेत तक पानी पहुंचे,स्थानिक आदिवासी समाज के युवाओं को रोज़गार, प्रदेश का शिक्षण का स्तर जो पूरी तरह से नीचे जा चुका है उसे ऊपर लाना,महिलाओ के लिए घर बैठे रोजगार का अवसर प्राप्त करना,केंद्र सरकार की महिलाओं के लिए बहुत सारी स्किम होती है जिस पर आजतक किसी ने ध्यान नही दिया उसे लागू कराउंगी ,उद्योगों के लिए उन्होंने कहा कि इको फ्रेंडली उद्योग के साथ नये उद्योग प्रदेश में विकसित किये जायेगें ताकि शिक्षित युवाओं को प्राइवेट सेक्टर एवं सरकारी सेक्टर में रोजगार दिलाने की दिशा में कार्य पर  ज्यादा ध्यान दिया जाय ,शिक्षा का स्तर ऊंचा करने के लिए सभी प्रयास किये जाएंगे। दादरा नगर हवेली में रिजल्ट का स्तर  काफी कम आता है उसे 100 प्रतिशत रिजल्ट की दिशा में कार्य किया जायेगा।  अंकिता पटेल ने उपस्थित समर्थकों को आह्वान करते हुए कहा कि आप सभी का साथ-सहयोग मिलेगा तो मुझे जीत मिलेगी और मैं लोकहित के हर कार्य को पूरा करुंगी। अंकिता पटेल ने कहा कि विकास के कार्य करने में पहले के दोनों सांसद  निष्फल रहे है। प्रदेश का विकास के कार्य करने के लिए मैंने शिवसेना पार्टी से चुनाव लड़ने का फैसला किया है आप लोंगो का सहयोग एवं आशिर्वाद मिलेगा तो निच्छित ही मैं प्रदेश की सेवा कर पाऊंगी।
Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

दीव 15 अप्रैल, 2019:  भारत निर्वाचन आयोग के द्वारा दीव जिले में नियुक्त चुनाव पर्यवेक्षक   श्री धर्मेश कुमार साहू ने आज दीव में चल रहे चुनाव से संबंधित विविध तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने सर्वप्रथम मतगणना केन्द्र की व्यवस्था का अवलोकन किया। आज श्री साहू तकनीकी प्रशिक्षण संस्थान, दीव में की गई व्यवस्था को देखा। ध्यातव्य है कि दिनांक 23 मई 2019 को दमण-दीव लोकसभा सीट के लिए दीव जिले में तकनीकी प्रशिक्षण संस्थान में मतगणना होगी। इस संदर्भ में चुनाव पर्यवेक्षक ने अधिकारियों को दिशा-निर्देश जारी किये। उन्होंने मतगणना के लिए की गई व्यवस्थाओं का भी जायजा लिया और मतगणना के दिन सुरक्षा बावत किये गये इंतजामों की जानकारी ली।

 इसके उपरांत चुनाव पर्यवेक्षक श्री साहू ने माइक्रो ऑबजर्वरों के लिए आयोजित प्रशिक्षण शिविर में गये। इस दौरान उनके साथ दीव जिले के उप-समाहर्ता डॉ. अपूर्व शर्मा भी उपस्थित थे। चुनाव पर्यवेक्षक ने माइक्रो ऑबजर्वरों को चुनाव से संबंधित विविध कार्यप्रणालियों से अवगत कराया और उप-समाहर्ता को दिशा-निर्देश दिये। चुनाव पर्यवेक्षक ने मीडिया प्रमाणन एवं निगरानी समिति, दीव के नोडल अधिकारी को एस.एस.टी., वी.एस.टी. एवं वी.वी.टी. द्वारा प्राप्त वीडियो सी.डी. को व्यवस्थित रूप से तैयार करने हेतु भी दिशा-निर्देश जारी किये। इस दौरान उन्होंने पेड-न्यूज एवं आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन से संबंधित समस्त प्राप्त जानकारियों को रिकार्ड करने का निर्देश भी दिया।

 विदित हो कि लोक सभा चुनाव 2019 के तीसरे चरण में दिनांक 23 अप्रैल को दमण-दीव लोक सभा सीट हेतु मतदान होना है। प्रशासन की ओर से सभी तैयारियां की गई हैं। चुनाव पर्यवेक्षक श्री साहू द्वारा इन समस्त तैयारियों का मुआयना किया जा रहा है एवं स्वच्छ तथा निष्पक्ष मतदान एवं मतगणना हेतु समस्त आवश्यक व्यवस्थाओं को सुनिश्चित भी किया जा रहा है।

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn


सिलवासा । चुनाव आयोग द्वारा 17वीं लोकसभा का चुनाव कराने के लिए जब से अधिसूचना जारी की गई है तभी से सभी राजनैतिक पार्टियां अपने-अपने तरीके से जनता को अपने पक्ष में लुभाने का प्रयास कर रही है जो एक लोकतंत्र का प्रमुख हिस्सा माना जाता है। उनके किए वादे और घोषणा पत्र को आधार मानकर ही जनता अपने भविष्य को सुनिश्चित करने के लिए सबसे बेहतर विकल्प उपलब्ध कराने वालों को अपने शासक के रूप में चुनती है। जहां पूरे देश में बड़ी राजनैतिक पार्टियों, क्षेत्रीय दलों के घोषणा पत्र आ चुके हैं वही आज संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली के निर्दलीय उम्मीदवार मोहन डेलकर ने चुनाव के 10 दिन पहले स्थानीय मुद्दों पर आधारित जिस चुनावी घोषणा पत्र को जारी किया है वह उनके चुनावी नैय्या को पार लगाएगी यह तो जनता ही तय करेगी। लेकिन उन्होंने अपने चुनावी घोषणा पत्र को आज अपने कार्यालय में जारी करते हुए संवाददाताओं से बताया कि वह जनता के कुल 56 मुद्दों के साथ अपना घोषणा पत्र जारी किए हैं। उन्होंने कहा कि 20 वर्ष तक लोकसभा में प्रतिनिधित्व करने के साथ ही 17वीं लोकसभा में सशक्त नेतृत्व, स्वराज संस्थाओं की स्वतंत्रता और लोकतांत्रिक व्यवस्था को मजबूत करने के इरादे से जनता की आवाज बनकर कर लोकसभा में जाने की इच्छा रखता हूं। क्योंकि पिछले 10 वर्षों में मजबूर नेतृत्व के कारण दादरा नगर हवेली की एक भी समस्या संसद के पटल तक नहीं आ पाई है और दादरा नगर हवेली का प्रत्येक नागरिक अपने आपको नेतृत्वहीन समझ रहा है। जनता की इस मजबूरी को अब मजबूती में बदलने का टाइम आ गया है। इसलिए 17वीं लोकसभा में दादरा नगर हवेली में नए और सशक्त लोकतंत्र को स्थापित करने का एक बड़ा माध्यम है जिसे जनता आगे बढ़कर अपने चुनावी अधिकार का उपयोग करते हुए एक सशक्त नेतृत्व का चयन करें। इस अवसर पर मोहन डेलकर ने विभिन्न मुद्दों पर बोलते हुए कहा कि चाहे वह रोजगार हो, चाहे वह सरकारी नौकरी, उद्योग, शिक्षा, पर्यटन, सामाजिक विकास, खेल विकास, स्वास्थ्य सेवाएं, व्यापार और वाणिज्य, सुविधा और व्यवस्था, पर्यावरण, भूमि और कृषि, महिला सशक्तिकरण, पशुपालन क्षेत्र, पेंशन योजना जैसे क्षेत्र में 10 सालों में जो काम किया जाना चाहिए था वह नहीं हो सका है। उन्होंने कहा कि वह अपने घोषणापत्र में दादरा नगर हवेली को 2 जिलों में बांटने के साथ-साथ दो जिला पंचायतों के गठन के भी वादे के साथ जनता के बीच जा रहे हैं, जिससे ग्रामीण विकास की योजनाओं को अधिकाधिक मात्रा में प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचाई जा सके। वहीं उन्होंने पीने की पानी की समस्या का समाधान करने का भी आश्वासन दिया है। मोहन डेलकर ने कहा कि उद्योगों को पिछले 10 वर्षों में बहुत ही पीछे कर दिया गया है। उन्होंने सीधे अफसरशाही पर सवाल उठाते हुए कहा कि लचर नेतृत्व के कारण उद्योगों को बहुत ही नुकसान झेलना पड़ा है। कभी पीसीसी के नाम पर तो कभी जीएसटी के नाम पर तो कभी परमिशन के नाम पर उद्योगों को पूरी तरह से बर्बाद कर दिया गया है। अगर वे दादरा नगर हवेली के एमपी चुने जाते हैं तो इन समस्याओं का समाधान 23 मई के तीसरे दिन ही कर दिया जाएगा। इस अवसर पर मोहन डेलकर ने कहा कि सिलवासा नगरपालिका के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की कमजोरियों के कारण आज हमारे व्यापारियों को कितनी परेशानियों का सामना करना पड़ा है और इसके साथ ही जनता पर अनाप-शनाप प्रॉपर्टी टैक्स लगा दिया है। अगर वह एमपी बनते हैं तो इसे तत्काल वापस कराया जाएगा। मोहन डेलकर ने कहा कि नॉन गेजेटेड बी, सी और ग्रुप डी की सभी नौकरियों में स्थानिकों को ही मौका दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह स्थानिकों का अधिकार है जो कमजोर नेतृत्व के कारण स्थानिकों को गवांना पड़ा है। यदि वे एमपी बनते है तो सरकार के सहयोग से ऐसे नियम बनाएंगे कि इस ग्रुप में केवल स्थानिकों को ही नौकरी में आवेदन करने का अधिकार होगा। 

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn


दीव । दीव में कांग्रेस प्रत्याशी केतन पटेल ने प्रेस कांफ्रेंस आयोजित कर चुनाव दौरान उनके संज्ञान में जनता द्वारा लायी गयी समस्याओं का निवारण लाये जाने की बात कहते हुए कांग्रेस पार्टी को जीताने का आह्वान किया। केतन पटेल ने कहा कि दीव में बीपीएल परिवारों सहति अन्य राशन कार्ड बंद कर दिये गये है। दीव को भाजपा ने घर-घर गैस पाईपलाइन पहुंचाये बिना ही केरोसीन मुक्त किया है, जिससे लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड रहा है। उन्होंने कहा कि शासन-प्रशासन का बिना खर्च किये करोडों रुपये वापस चला जा रहा है, जिसे जनता के हित में खर्च करना चाहिए। हम नयी योजना बनाकर पूरे बजट को खर्च करेंगे। दीव में बडी संख्या में फिशरीज बोटें है, कई स्कीमें बंद कर दी गयी है, सब्सिडी बंद कर दी गयी है। इंजन पर मिलने वाली दो लाख की सब्सिडी को एक लाख कर दिया गया है। जीपीएस की सब्सिडी बंद कर दी गयी है। साउथ में देखा जाये तो 50 प्रतिशत सब्सिडी दी जाती है। हम दीव-दमण में 50 से ज्यादा 60 प्रतिशत मछुआरों को सब्सिडी देने की व्यवस्था करेंगे। उन्होंने कहा कि दीव के बाहर जन्म लेने वाले बच्चों को बर्थ सर्टिफिकेट नहीं दिया जाता है। दीव के अस्पतालों में डॉक्टरों की कमी है। मशीनरी होने के बावजूद डॉक्टरों की कमी के चलते सही से इलाज नहीं होता पाता है, हम इन सबके लिए काम करेंगे। पोर्टुगीज पासपोर्ट मिलने के बाद देश छोडने से पहले पुलिस की एनओसी लेनी पडती है जो अब दमण-दीव के लोगों को अहमदाबाद से लेनी पड रही है। केतन पटेल ने कहा कि दमण-दीव के लोगों के लिए हम दमण-दीव में ही यह व्यवस्था शुरु कराने के प्रयास करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार द्वारा लागू की गयी लैपटॉप योजना को भाजपा ने बंद कर दिया है, जिसे हम फिर से शुरु करायेंगे और दमण-दीव के 10वीं पास बच्चों को लैपटॉप बांटा जायेगा। योजना बंद होने के चलते पिछले दो-तीन सालों से वंचित बच्चों को भी इसका लाभ दिया जायेगा। सरकारी नौकरियों में स्थानीय एवं डोमिसाइल धारकों ही नौकरी दिलाने की व्यवस्था की जायेगी। उन्होंने कहा कि पुर्तगाली शासन से खेती करते आ रहे किसानों को सरकारी जमीन बेदखल कर दिया गया है, उन किसानों को फिर से खेती करने का मौका दिया जायेगा। केतन पटेल ने दीव की जनता, माताओं, बहनों एवं खासकर युवाओं से आग्रह करते हुए कहा कि अब भाजपा को सत्ता से बेदखल करने का समय आ गया है, मुझे पूरी उम्मीद एवं आशा है कि आप सभी लोग 23 अप्रैल को अपना कीमती एवं बहुमूल्य वोट कांग्रेस पार्टी को देंगे।

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

 

 

दीव 09 अप्रैल, 2019: आज दीव समाहर्तालय के सभागार में दीव जिले के लिए नियुक्त चुनाव पर्यवेक्षक श्री धर्मेश कुमार साहू ने चुनाव की तैयारियों से संबंधित बैठक ली। इस बैठक में दीव के समाहर्ता एवं सहायक निर्वाचन अधिकारी श्री हेमन्त कुमार, उप-समाहर्ता डॉ. अपूर्व शर्मा, पुलिस अधीक्षक श्री हरेश्वर वी. स्वामी के साथ दीव के सभी नोडल अधिकारी उपस्थित रहे।

श्री साहू ने चुनाव से संबंधित तैयारियों का विस्तृत जायजा लिया। उन्होंने बताया कि सभी राजनीतिक पार्टियों को आदर्श आचार संहिता की जानकारी होनी चाहिए अत: उनके कार्यकर्ताओं को इस संदर्भ में प्रशिक्षण दिया जाना चाहिए। इस संदर्भ में दीव समाहर्ता श्री हेमन्त कुमार ने बताया कि राजनीतिक पार्टियों एवं मीडियाकर्मियों को बैठक आयोजित कर आदर्श आचार संहिता के संबंध सभी जानकारियां मुहैया करायी गई है। चुनाव पर्यवेक्षक श्री साहू ने बताया कि फ्लाईंग स्क्वाड टीम नगद राशि, शराब और हथियार की आवाजाही पर विशेष निगरानी रखेगी और कुछ भी संदेहास्पद होने या पाये जाने की स्थिति में उसे तत्काल कब्जे में लेकर इसकी सूचना पुलिस को देगी। उन्होंने यह भी बताया कि वी.एस.टी. और एस.एस.टी. की खास जिम्मेदारी है कि वह उन वाहनों की जांच अवश्य करें, जिसे पार्टियों के चुनाव प्रचार हेतु अनुमति प्रदान की गई है। यह ध्यान देना आवश्यक है कि जिस वाहन को प्रचार हेतु अनुमति दी गई है उसी वाहन का उपयोग पार्टियों द्वारा किया जाना चाहिए। अनुमित प्रदान की गई वाहनों पर अनुमति आदेश की प्रति लगाया जाना आवश्यक है और इसकी भी जांच वी.एस.टी. और एस.एस.टी. द्वारा की जानी चाहिए।

श्री साहू ने दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि प्रत्येक टीम को मुहैया किये गये वीडियोग्राफर के पास अतिरिक्त बैटरी होनी चाहिए एवं उनके पास रिकार्डिंग के लिए पर्याप्त स्टोरेज साधन हों। उन्होंने सहायक व्यय पर्यवेक्षक को चुनाव से संबंधित व्यय की जानकारी देने को कहा और आबकारी विभाग को सजगता से शराब की तस्करी की रोकथाम करने का निदेश दिया। अमूमन देखा जाता है कि राजनीतिक पार्टियां मतदाताओं को लुभाने के लिए शराब बांटती है। श्री साहू ने बताया कि शराब के चलते पारदर्शी और स्वच्छ चुनाव की प्रक्रिया प्रभावित होती है तथा यह लोकतंत्र के लिए सही नहीं है। यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम चुनाव के दौरान शराब की खपत और कालाबाजारी पर अंकुश लगायें। उन्होंने दोषियों के विरूद्ध सख्त कदम उठाने के भी निदेश दिये।

बैठक में चर्चा करते हुए चुनाव पर्यवेक्षक श्री साहू ने बताया कि फोटो मतदाता पर्ची को लोगों में बांटने का कार्य मतदान दिवस से 5 दिन या एक सप्ताह पहले हो जाना चाहिए। ‘क्या करें’ और ‘क्या ना करें’ इस विषय पर विस्तृत जानकारी आम जनता और राजनीतिक दलों को देते हुए प्रत्येक मतदान केन्द्र में लगाया जाना चाहिए। मॉक-पोल, वी.वी.पैट मशीन, कंट्रोल एवं बैलेट यूनिट आदि के बारे में प्रशिक्षण दिया जाना चाहिए। मॉक-पोल के उपरांत क्लीयर बटन को दबाकर यह सुनिश्चित किया जाना नितांत आवश्यक है कि कंट्रोल यूनिट में शून्य वोट है।

श्री साहू ने चुनाव आयोग द्वारा उठाये गये कदमों की जानकारी देते हुए कहा कि इस बार के चुनाव में आयोग ने लोगों को सुविधा प्रदान करते हुए कई टॉल-फ्री नंबर और एप जारी किये हैं। टॉल-फ्री नंबर 1950 पर कोई भी व्यक्ति अपनी शिकायत को दर्ज कर सकता है। शिकायत प्राप्त होते ही संबंधित टीम उसके निवारण के लिए कदम उठायेगी। यह सेवा 24x7 उपलब्ध है। पुन: टॉल-फ्री नंबर 1800-2333170 पर कॉल करके कोई मतदाता अपनी मतदान केन्द्र, मतदाता क्रमांक आदि की जानकारी हासिल कर सकता है। साथ ही दूरभाष   सं.02875-253101 पर कॉल करके निर्वाचन कंट्रोल रूम को किसी भी तरह की जानकारी एवं आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन से संबंधित शिकायत को दर्ज कराया जा सकता है। उन्होंने बताया कि चुनाव संबंधी विविध कार्यों को आसान बनाने के लिए भारत चुनाव आयोग ने ‘सुविधा-एप’ तैयार की है, इसका अधिक से अधिक उपयोग किया जाना चाहिए। इस एप के जरिये मतदाता, आम जनता और यहां तक की उम्मीदवार भी चुनाव संबंधी अपने अधिकांश काम घर बैठे कर सकते हैं और चुनाव से संबंधित जानकारी भी प्राप्त कर सकते हैं।

 श्री साहू ने बताया कि यदि किसी राजनीतिक पार्टी या उम्मीदवार को जुलूस निकालना, बैनर या होर्डिंग लगाना या चुनाव रैली हेतु वाहनों की अनुमति लेना है तो वे सुविधा-एप पर अपना अनुरोध दर्ज कर सकते हैं। उन्हें 24 घंटे के भीतर अनुमति दे दी जाएगी। निर्वाचन आयोग ने ‘सी-विजिल’ और ‘वोटर हेल्पलाईन’ नामक मोबाईल-एप भी जारी किया है। ‘सी.विजिल’ का उपयोग करते हुए स्वत: लोकेशन डाटा के साथ आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन या चुनाव-व्यय की तस्वीरों या वीडियो को अपलोड किया जा सकता है। कोई भी नागरिक इस मोबाईल-एप के जरिये अपनी शिकायत दर्ज कर सकता है। प्राप्त शिकायतों को फ्लाईंग स्क्वाड टीम द्वारा जांच कर उसकी रिपोर्ट निर्वाचन अधिकारी को सौंपी जाएगी। यह समयबद्ध शिकायत निवारण प्रक्रिया है। दीव जिले में ‘सी-विजिल’ से प्राप्त शिकायतों और उसके निवारण हेतु चुनाव नियंत्रण-कक्ष आरंभ किया जा चुका है जिसकी देखरेख इसके लिए विशेष रूप से तैनात कर्मियों द्वारा की जा रही है। ‘सी.विजिल’ एप की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इसमें शिकायतकर्ता अपनी पहचान छुपा भी सकता है। दीव के लोग एवं मतदाता अपनी शिकायतों को दर्ज करने के लिए चुनाव पर्यवेक्षक के मोबाईल नं.6355907919 तथा दूरभाष सं.02875-253104 पर संपर्क कर सकते हैं। अगर कोई चुनाव पर्यवेक्षक से व्यक्तिगत रूप से मिलना चाहता है तो वह किसी भी कार्यदिवस में 3 से 4 बजे के बीच संपर्क कर सकते हैं।बैठक के अगले चरण में पुलिस पर्यवेक्षक श्री प्रवीण पवार ने चुनाव में पुलिस बंदोबस्त से संबंधित विविध तैयारियों की जानकारी ली। उन्होंने दीव पुलिस टीम को औचक निरीक्षण करने हेतु दिशा-निर्देश जारी किये। चुनाव को शांतिपूर्ण तरीके से कराने के लिए पुलिस प्रशासन की बंदोबस्त पर उन्होंने विशेष जानकारी दी और कहा कि सभी इलाकों की गश्ती और वाहनों की जांच अवश्य रूप से की जाए तथा इससे प्रशासन को निरंतर अवगत कराया जाए। उन्होंने पुलिस निरीक्षक को निदेश दिया कि वे दीव जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में वाहनों की जांच का कार्य चलायें और रात्रि में भी विशेष रूप से वाहनों की आवागमन पर निगरानी रखें। पुलिस पर्यवेक्षक श्री प्रवीण पवार ने दीव के लोगों से अपील की है कि वे अपनी शिकायतों या किसी भी प्रकार की जानकारी उनके मोबाईल सं.8238896049 पर दे सकते हैं।

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

दमण-दीव कांग्रेस उपाध्यक्ष नरसिंह चारणिया, दीव नगरपालिका प्रमुख हितेश सोलंकी सहित दीव के कांग्रेसी भी रहे प्रचार में साथ
दीव । दमण-दीव लोकसभा सीट के कांग्रेस प्रत्याशी केतन पटेल ने अपने दीव दौरे के  दूसरे दिन दीव के मुख्य मार्केट में अपना चुनाव प्रचार किया। केतन पटेल ने व्यापारियों से एक-एक कर रुबरु मुलाकात कर कांग्रेस का समर्थन करने का आह्वान किया। व्यापारियों ने केतन पटेल के गले में फूलों का हार पहनाकर उन्हें समर्थन का भरोसा दिलाया। आज के इस पूरे प्रचार अभियान में केतन पटेल के साथ दमण-दीव कांग्रेस उपाध्यक्ष नरसिंह चारणिया, दीव नगरपालिका प्रमुख हितेश सोलंकी सहित दीव के कांग्रेसी उपस्थित रहे।

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

पंचायत मार्केट एसोसिएशन के तमाम पदाधिकारियों, युवा समर्थकों, महिलाओं एवं छोटे-बडे व्यापारी प्रचार में जुडे - मार्केट के व्यवसायियों की समस्या और परेशानी का आयेगा अंत, व्यापारियों को कोई नहीं परेशान कर पायेगा: डेलकर
सिलवासा । दादरा नगर हवेली लोकसभा सीट से निर्दलीय चुनाव लड रहे मोहन डेलकर ने आज अपने समर्थकों के साथ पंचायत मार्केट एवं झंडा चौक विस्तार में जोरदार चुनाव प्रचार किया। सिलवासा शहर की पहचान झंडाचोक पर युवाओं ने ''मैं हूं मोहन डेलकर'' के सूत्रोच्चार से मोहन डेलकर का स्वागत किया। मैं हूं मोहन डेलकर सूत्र बावत मोहन डेलकर ने युवाओं के विचार जानकर युवाओं पर गर्व व्यक्त किया। इस चुनाव प्रचार में पंचायत मार्केट एसोसिएशन के तमाम पदाधिकारियों, युवा समर्थकों, महिलाओं एवं छोटे-बडे व्यापारी शामिल हुए। चुनाव प्रचार के दौरान मोहन डेलकर को स्थानीकों एवं परप्रांतीय दुकानदारों ने पूरा समर्थन दिया। इस दौरान निर्दलीय उम्मीदवार मोहन डेलकर ने मार्केट के धंधा की समस्या दूर करने, परेशानी को दूर करने, मंदी के संकट दूर करने के लिए पूरा सहयोग देने की पंचायत मार्केट के व्यापारियों को भरोसा दिलाया। पंचायत मार्केट में अपने व्यवसाय को बचाने के लिए जूझ रहे व्यापारियों ने मोहन डेलकर को पूरा सहयोग देने का आश्वासन दिया। मोहन डेलकर ने कहा कि चुनाव प्रचार में लोगों के बदले मिजाज से परिर्वतन लाकर रहूंगा।

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

हैदराबाद. मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव की बेटी कल्वकुंतला कविता ने कुछ दिनों पहले एक चुनावी सभा में कहा था कि तेलंगाना के एक हजार किसानों को बनारस और अमेठी जाकर नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ना चाहिए ताकि प्रधानमंत्री को और कांग्रेस अध्यक्ष को मालूम पड़े कि खेती-किसानी करने वालों की हालत कितनी खराब है। कविता निजामाबाद क्षेत्र से लोकसभा सदस्य हैं और इस दफा फिर से अपने पिता की पार्टी तेलंगाना राष्ट्र समिति के टिकट पर चुनाव लड़ रही हैं। लगता है, किसानों ने उनके आह्वान को गंभीरता से लिया। पर 1100 किलोमीटर दूर जाने की बजाय उन्होंने अपने घर निजामाबाद से ही नामांकन भर दिया। नतीजा यह है कि अब यहां से 179 किसान खड़े हुए हैं, जबकि कुल उम्मीदवार 185 हैं। वे केवल अपनी समस्याओं की ओर सरकार का ध्यान आकर्षित करने चुनाव लड़ रहे हैं। उम्मीदवारों में से एक ताहेर बिन हमदान कहते हैं, ‘हल्दी का दाम इतना कम हो गया है कि एक एकड़ पर हमको 40 हजार रुपए का नुकसान हो रहा है।’

तेलंगाना के किसान अपने विद्रोही और सत्ता विरोधी तेवर के लिए मशहूर हैं। जमींदारों और निजाम के खिलाफ 1946-48 के हथियारबंद किसान विद्रोह की याद अभी भी लोगों के जहन में है। पर अब विद्रोह ऐसी सरकार के खिलाफ है जो दावा करती है कि वह किसानों को इतनी सुविधाएं दे रही है जो दूसरे राज्यों में सपना ही है। खेतों के लिए मुफ्त बिजली के अलावा हर किसान को साल में 8000 रुपए प्रति एकड़ मिल रहे हैं। 59 की उम्र के पहले मृत्यु होने पर उनके परिवार को 5 लाख रु. का बीमा मिलता है।

तेलंगाना में देश की 13% हल्दी पैदा होती है। ये किसान लंबे अरसे से मांग कर रहे थे कि राष्ट्रीय हल्दी बोर्ड का गठन किया जाए और हल्दी तथा लाल ज्वार का न्यूनतम समर्थन मूल्य तय किया जाए। हमदान के मुताबिक एक क्विंटल हल्दी उपजाने की लागत 7000 रुपए है, पर मंडी में 5000 का भावमिलता है। ‘किसान खेत कांग्रेस’ के अन्वेष चुनाव लड़ने की वजह बताते हैं: ‘ट्रेडर कार्टेल बनाते हैं, दाम गिराते हैं, सरकार कुछ नहीं करती। किसान को पैसे नहीं मिलते। हम लोग सड़क पर आ गए हैं, इसलिए इलेक्शन लड़ रहे हैं।’ जमानत के 25-25 हजार रुपए किसानों ने आपस में चंदा करके इकठ्ठा किए हैं।

निजामाबाद से भाजपा और कांग्रेस के उम्मीदवार भी मैदान में हैं। कविता कहती हैं कि ऐसा नहीं कि उन्होंने पांच सालों में कुछ नहीं किया: ‘हमने पार्लियामेंट में कई दफा यह मामला उठाया।’ हल्दी किसानों के हमले ने उनका रंग पीला कर दिया है। हमदान कहते हैं कि नॉमिनेशन वापस लेने के लिए टीआरएस ने किसानों पर दबाव बनाया था पर उन्होंने झुकने से इंकार कर दिया। तेलंगाना के लोगों ने इसके पहले भी समस्या की तरफ ध्यान खींचने थोक में नामांकन दाखिल किए थे। फ्लोराइड की समस्या से जूझ रहे नलगोंडा में 1996 के लोकसभा चुनाव में 480 कैंडिडेट मैदान में उतरे थे, जिनके लिए 50 पेज की बैलट पुस्तिका छपवानी पड़ी थी। लगभग सबकी जमानत जब्त हुई, पर डेमोक्रेसी का जमीर बचा रहा।
कविता बोलीं- चुनाव लड़ रहे किसान भाजपा-कांग्रेस के के. कविता ने रविवार को कहा कि मुझे किसानों पर पूरा भरोसा है। जो किसान मेरे खिलाफ चुनाव में खड़े हुए हैं वे भाजपा और कांग्रेस के समर्थक हैं। उन्होंने यह भी कहा कि वे बिल्कुल भी परेशान नहीं हैं और नतीजों से पता चल जाएगा कि कौन सही है और कौन गलत।

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

फोटो गैलरी

Contact Us

    • Address: INDIA HIGHLIGHT, KRISHNA NEWS NETWORKS,
    • AT & POST: SANJAN-396150
    • SURATINDIA HIGHLIGHT, KRISHNA NEWS NETWORKS,
    • 84-ARIHANT PARK, CHAPPRA BHATHA ROAD, AMROLI, SURAT
    • Mob: +91.9228407101 Email: This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.  Website: http://indiahighlight.org/

3d Printer

About Us

India Highlight is one of the renowned media group in print and web media. It has earned appreciation from various eminent media personalities and readers. ‘India highlight’ is founded by Mr. Pinal Patel.