You are here: Homeप्रादेशिक समाचार

State (642)

Chhatisgrah (1)

नक्सल प्रभावित इलाकोंमें CRPF को मिलेंगे बुलेटप्रूफ वाहन

नक्सल प्रभावित इलाकोंमें CRPF को मिलेंगे बुलेटप्रूफ वाहन

नई दिल्ली॥ कश्मीर में सुरक्षाबलों पर बढ़ते हमलों और नक्सल प्रभावित राज्यों में ज ...

MORE

Bangal (1)

दिल्ली से कोलकाता तक टीएमसी का प्रोटेस्ट

दिल्ली से कोलकाता तक टीएमसी का प्रोटेस्ट

नई दिल्ली : नोटबंदी पर केंद्र सरकार को घेरने में जुटी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्र ...

MORE

Punjab (1)

पंजाब में दलित महिला के साथ गैंगरेप, आरोपी गिरफ्तार

पंजाब में दलित महिला के साथ गैंगरेप, आरोपी गिरफ्तार

पंजाब। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के गृहनगर पटियाला में एक दलित मह ...

MORE
 
 
पत्रकार परिषद मै युवा नेता जैमिनदवे(बापु) ने आज ऐक विशेष विषय पर पत्रकारो के साथ बातचीत की,आज उन्हों ने अपने नये सामाजिक संस्था संगठन की घोषणा की,युवा नेता जैमिनदवे(बापु) ने हमारे पत्रकार को बताया के मैने ऐक नया सामाजिक संगठन शुरू किया है और उसका नाम शिवाजी सेना हैं, ये संगठन शिवाजी महाराज के बताये हुए आदॅश पर हम चलायेगे, और इस संगठन में हम समग्र हिन्दू समाज को जोड़गे, आगे उन्हों ने हमे बताया के ये संगठन की शरुआत हम गुजरात के अहमदाबाद शहर से कर रहे हैं बाद में हम गुजरात में हर जगह शिवाजी सेना खड़ी करेंगे,और आगे उन्हों ने हमे बताया के ये ऐक सामाजिक संगठन होगा इस संगठन के साथ हम हिन्दुत्व की हर लड़ाई लोकतांत्रिक तरीके से लडेगे,  हमारी सेना में जुडने वाले हर युवा को हम शिवाजी महाराज की तरह हिन्दू योद्धा बनायेगे और हर हिन्दू समाज के भाइयों को हम देश सेवा में जोडेगे,आगे बातचित के दौरान जैमिनदवे(बापु) हमे बताया के शिवाजी सेना के बैनर तले सबसे पहले गुजरात में आंदोलन करके बेरोजगारी का मुद्दा उठाया जायेगा,गुजरात में जितने युवा बेरोजगार है उन सब को हम शिवाजी सेना में शामिल करके आंदोलन करेंगे, और सब को गुजरात सरकार से लोकतांत्रिक पध्दति से लडाई लडकर युवानो को अपना हक दिलायेगे उसके लिए हम उग्र से उग्र आंदोलन करने के लिए तैयार है,हमारी शिवाजी सेना पहले हिन्दू युवा भाइयों के रोजगार के मुद्दे पर गुजरात सरकार से मांग करेंगी,
जब तक हिन्दू युवा भाइयों को रोजगार नहीं मिलता तबतक हम चैन से नहीं बेठेगे और नाही गुजरात सरकार को चेन से खाने देगे, हमारी पहली मांग गुजरात सरकार से यही रहेंगी के हिन्दू बेरोजगार युवानो को रोज़गार मिले, वरना परिणाम भुगतने के लिए गुजरात सरकार तैयार रहे,ये संगठन बनानेका मुख्य उद्देश्य यही है के हिन्दू समाज के बेरोजगार भाईयो को काम मिले जेसे ही हमारा संगठन गुजरात बहार के राज्यों में भी मजबूत होगा हम दूसरे राज्यो में भी ये युवानो के लिए रोजगार कि लड़ाई लड़गे, हमारी हर लड़ाई हिन्दू समाज के हक की होगी ये शिवाजी सेना ऐक दिन समाजिक संगठन के रुप में हिन्दू ओकी आवाज बनेगा ये सारी जानकारी हमारे पत्रकार को शिवाजी सेना के संस्थापक/राष्ट्रीय अध्यक्ष-जैमिनदवे(बापु) ने हमे बतायी.
Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

 

Miss Damyantiben Govindbhai Badagha, PhD Research Scholar from Sardar Vallabhbhai National Institute of Technology, Surat presented her technical research paper in the area of concrete including waste materials in 4th International Youth Symposium at B K School of Business and Management Ahmedabad. Many reputed institutes were participated in this international symposium from different countries to present their papers. Damyanti has discussed the utilization of different types of waste materials in concrete to save environment and natural resources. Theme of symposium was “Sustainable Development Goals: Achievements, Roadblocks and way forwards”. More than 200 delegates across the world were participated for different subthemes and presentation track in symposium. Different prizes were announced for different track presentations. Miss Damyanti G Badagha has received “Best Paper Award” in 4th International Youth Symposium held on 1st-2nd February 2019 at B K School of Business and Management, Ahmedabad for the research paper entitled “Utilization of Waste Materials to Produce Economical Concrete: Achieved Goal for Environment Prevention & Sustainable Development” in Environment track. This research paper was selected and published by the conference reviewing committee for the UGG approved journal. This research paper is a part of Department of science and technology Gujcost funded MRP, “Experimental studies on High Performance Concrete Using Industrial wastes”; in which Miss Damyanti G Badagha is working as a co-investigator with Principal Investigator, Professor Dr C D Modhera, Professor of Applied Mechanics Department. From this achievement, Damyanti’s father Govindbhai, Late mother Manjulaben, Badagha Family and her parent institute SVNIT feel proud.

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

 

 

अहमदबाद : प्रधानमंत्री महोदय के अहमदबाद आगमन पर गुजरात के 11.5% अल्पसंख्यक समाज की विकास एवं रक्षण की मूलभूत मांगों को पूरा कराने व ये मांगें प्रधानमंत्री महोदय को भी पता चलें के लिए आज तरिख 4/1/19 को 4 बजे उनके सामने अपनी मांगो को रखने के लिए प्रदर्शन करनेका आयोजन किया गया था, सरकार इतनी डर गयी की आज 2.57 बजे ही घर से मुजाहिद और साथियों को डिटेंन कर लिया गया.

प्रधानमंत्री हमारी आवाज़ को दबा नहीं सकते हमारी सारी मांगे संमवेधानिक हें और भारत सरकार के द्वारा साइन की गयी अंतर्राष्ट्रीय संधियों के मुताबिक हें,

गुजरात में अल्पसंख्यक समाज के विकास एवं रक्षण के लिए मांगें

1-      राज्य में अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रालय की स्थापना की जाये|

2-      राज्य के बजट में अल्पसंख्यक समुदाय के विकास के लिए ठोस आबंटन किया जाये|

3-      राज्य में अल्पसंख्यक आयोग का गठन किया जाये व इसको संवेधानिक मजबूती का विधेयक विधानसभा में पास किया जाये|

4-      राज्य के अल्पसंख्यक बहुल विस्तारों में कक्षा 12 तक के सरकारी स्कूल खोले जाएँ|

5-      मदरसा डिग्री को गुजरात बोर्ड के समकक्ष मान्यता दी जाये|

6-      अल्पसंख्यक समुदाय के उत्थान के लिए विशेष आर्थिक पैकेज दिया जाये|

7-      सांप्रदायिक हिंसा से विस्थापित हुए लोगों के पुनर्स्थापन के लिए सरकार नीति बनाये|

8-      प्रधानमंत्री के नया 15 सूत्रीय कार्यक्रम का सम्पूर्ण रूप से अमलीकरण किया जाये|

ये मांगे दुसरे राज्यों में मिल रहीं हें तो गुजरात में क्यूँ नहीं. इस सवाल को MCC ने उठाया हे जो वाजिब हे और सर्कार को इसको पूरा करना होगा.

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn



लेस्टर यूके। ब्रिटिश पार्लामेंट में लेस्टर सीट के सांसद कीथ वाज़ ने अपने क्षेत्र की जनता के समक्ष अपनी दमण यात्रा का परिणाम, अनुभव एवं अगामी रणनीति पेश की। लेस्टर में कीथ वाज़ ने मूल निवासी दमणवासियों को संयुक्त रुप से संबोधित करते हुए कहा कि समुद्र किनारे 65-70 सालों से निवास कर रहे लोगों के घर 3 दिन की नोटिस देकर तोडे जाने की बात से चिंतित होकर उन्होंने तुरंत दमण का दौरा किया। इस दौरे में उन्होंने संघ प्रदेशों के प्रशासक प्रफुल पटेल से मुलाकात की। अपनी मुलाकात के बारे में उन्होंने आगे बताते हुए कहा कि मैंने उनसे निवेदन किया कि अब और डिमोलिशन नहीं होना चाहिए। विकास और सौंदर्यीकरण का कोई विरोध नहीं है लेकिन लोग बेघर नहीं होने चाहिए। कीथ वाज़ ने बताया कि उन्हें प्रफुल पटेल ने बताया है कि मोटी दमण मामला बॉम्बे हाईकोर्ट में लंबित है। आगे कीथ वाज़ ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और प्रशासक प्रफुल पटेल का दमण को लेकर बहुत ही सुंदर विजन है। कुछ ही दिनों में प्रधानमंत्री के हाथों मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास होने जा रहा है। युनिवर्सिटी की भी स्थापना होने जा रही है। सांसद कीथ वाज़ ने कहा कि उन्होंने अपने दौरे में दमण-दीव सांसद लालू पटेल एवं माछीमार समाज के अग्रणियों से भी मुलाकात की। सांसद लालू पटेल से उन्होंने इस डिमोलिशन की कार्यवाही रोकने के लिए सहयोग भी मांगा। सांसद कीथ वाज़ ने सभागार में उपस्थित डिमोलिशन की नोटिस प्राप्त करने वाले लोगों के समूहों को अपनी पूरी डिटेल देने की अपील करते हुए कहा कि मैं आपकी पूरी डिटेल के साथ भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखूंगा। उनसे यह अपील करुंगा कि लेस्टर में निवास करने वाले लोगों के दमण स्थित निवासस्थानों को भविष्य में भी न तोडा जाय। उन्होंने कहा कि ब्रिटिश हाईकमीशन को भी इसी प्रकार का एक पत्र लिखूंगा। सांसद कीथ वाज़ ने यह स्पष्ट किया कि दमण यात्रा आगे भी जारी रहेगी। जब-जब मेरी जरुरत होगी मैं आपके लिये दमण यात्रा करुंगा। सांसद कीथ वाज़ ने दमण की तारीफ करते हुए कहा कि दमण वेरी स्पेशियल प्लेस है। उन्होंने कहा कि वे कभी भी दमण नहीं गये थे। वे गोवा के मूल निवासी है और दमण-दीव गोवा को पहले से एक साथ जोडकर देखा जा रहा है। इस अवसर पर माछी महाजन के प्रमुख जयंति भाठेला ने भी सभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि दमणवासियों पर जब भी मुसीबत आयेगी तब हम सबको इसी तरह कंधे से कंधा मिलाकर एक दूसरे की मदद करनी है। दमण के मूलनिवासियों के आशियानों को बचाने के लिए दमण का दौरा करने पर दमणिया माछी महाजन लेस्टर यूके के प्रमुख जयंति भाठेला ने सांसद कीथ वाज़ का तहेदिल से आभार माना। साथ ही साथ इस पूरे अभियान में कोर्डिनेटर की भूमिका निभाने वाले काउंसिलर लुईस फुन्सेका का भी आभार माना। सांसद कीथ वाज़ के साथ इस बैठक में प्रेमा सागर, अशोक जलाराम सहित सर्व समाज के प्रतिनिधि उपस्थित रहे। गौरतलब है कि लेस्टर संसदीय क्षेत्र में 11,200 दमण-दीव के मूल निवासी मतदाता है। इसी लिए सांसद कीथ वाज़ ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए दमण दौरा कर प्रशासक प्रफुल पटेल से रुबरु होकर दमणवासियों को राहत दिलाने का प्रयास किया।  
Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn


 
मालाड । मुंबई शहर के कुछ सरकारी अस्पताल का नाम लेते ही एक बदहाल सी इमारत की तस्वीर जेहन में आ आती है। डॉक्टरों की लापरवाही, बिस्तरों एवं दवाइयों की कमी, चारों तरफ़ फैली गंदगी के बारे में सोच कर आम आदमी अपना इलाज सरकारी अस्पताल के बजाय किसी निजी नर्सिंग होम में कराने का फैसला ले लेता है। लेकिन अब इस अव्यवस्था के खिलाफ़ राष्ट्रवादी युवक कांग्रेस ने कमर कस ली है। उत्तर मुंबई जिला राष्ट्रवादी युवक कांग्रेस ने मुंबई राकपा अध्यक्ष श्री सचिनभाऊ अहिर जी के अदेशानुसार व उपाध्यक्ष श्री श्रीकांत मिश्रा जी और उत्तर मुंबई जिला अध्यक्ष श्री इंदरपाल सिंह जी के मार्ग दर्शन में मालाड पूर्व के मनपा देसाई हास्पिटल में चल रही तानाशाही के ख़िलाफ़ मोर्चा का आयोजन किया। इस मोर्चे का नेतृत्व उत्तर मुंबई जिला राष्ट्रवादी युवा कांग्रेस के अध्यक्ष अरुण श्रीकांत मिश्रा ने किया। श्री अरूण मिश्रा ने कहा कि एक आम आदमी की हैसियत से आप और हम सरकार को कर देते हैं तो सरकार से अपने द्वारा दिए गए कर का हिसाब मांगना भी हमारी ही जि़म्मेदारी है। अच्छी स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराना सरकार की जि़म्मेदारी है। अगर सरकार लापरवाही बरतती है तो क्या आप इसके लिए पांच साल तक इंतज़ार करेंगे ? लोकतंत्र में पहले ऐसी मजबूरी थी, लेकिन अब नहीं है, क्योंकि अब आपके पास सूचना का अधिकार क़ानून है। इस क़ानून के ज़रिए आप सरकार की जि़म्मेदारी तय कर सकते हैं। सरकार को उसकी लापरवाही के बारे में बताया जा सकता है। आम लोगों की सरकारी अस्पताल के मामले में सबसे ज़्यादा  शिक़ायतें दवाइयों की कमी से ही जुड़ी होती हैं। यह शिक़ायत जायज़ भी होती है। दरअसल, हर सरकारी अस्पताल में दवाइयों की  खरीद के लिए सरकार पैसा मुहैया कराती है। समस्या यहीं से शुरू होती है। इस बात के लिए कोई कारगर मशीनरी नहीं होती, जो दवाइयों की खरीद और जारी किए गए पैसों की जांच करे। नीचे से ऊपर तक के अधिकारी मिल-बांटकर पैसा हज़म कर जाते हैं। भुगतना पड़ता है बेचारे गऱीब आदमी को, जो पैसों की कमी के चलते सरकारी अस्पताल में इलाज कराने जाता है। वहां उससे बाहर की (निजी) दुकानों से दवा खरीदने के लिए कह दिया जाता है। अब इस पर अंकुश लगाना जरूरी है, इसलिए उत्तर मुंबई जिला युवक कांग्रेस ने तय किया है कि मुंबई के सरकारी अस्पतालों में चल रही दादागीरी व अनियमितताओं के खिलाफ ऐसे ही मोर्चा का आयोजन कर शासन-प्रशासन को नींद से जगायेगी। श्री अरूण मिश्रा जी ने मोर्चे में उपस्थित सभी कार्यकर्ताओं को धन्यवाद दिया तथा श्री मंसूर खानजी, श्री मनोहर भातूसेजी और श्री विष्णु पवारजी के उत्कृष्ट मार्गदर्शन के लिए आभार व्यक्त किया। 
Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn
 
 

सायली के तिरंगा मैदान में हुआ आदिवासी विकास संगठन का सम्मेलन
- सिर्फ तीन गांव के 4 हजार कार्यकर्ताओं ने उपस्थित रहकर सम्मेलन को महासम्मेलन में बदला - आदिवासी विकास संगठन विशाल परिवार है इसीलिए खडा है: एवीएस प्रमुख
 सिलवासा । सायली के तिरंगा मैदान में आज आदिवासी विकास संगठन का सम्मेलन आयोजित हुआ। जिसमें सायली, रखोली एवं बालदेवी मिलकर सिर्फ तीन गांव के 4 हजार कार्यकर्ताओं ने उपस्थित रहकर सम्मेलन को महासम्मेलन में बदला दिया था। इस सम्मेलन को संबोधित करते हुए दादरा नगर हवेली के पूर्व सांसद एवं आदिवासी विकास संगठन के प्रमुथ मोहन डेलकर ने अपने वास्तविक अंदाज में कार्यकर्ताओं में नया जोश भरते हुए आह्वान किया कि प्रदेश के उज्जवल भविष्य के लिए कार्यकर्ताओं सजग एवं सचेत हो जाओ। पिछले 30 वर्ष से चले आ रहे अनुशासनबद्ध संगठन को और शक्तिशाली एवं ताकतवर बनाने का समय आ गया है। जिससे हक-अधिकार की लडाई खुद लडकर न्याय पाया जा सके। प्रदेश में आदिवासी विकास संगठन एक विशाल परिवार है इसीलिए खडा है। स्वार्थ एवं सौदेबाजी की नियत से चलने वाले संगठन जल्द ही बिखर जाने के अनेक उदाहरण है। संगठन के संचालकों की नियत साफ होनी चाहिए जिसे हमने साबित करके दिखाया है। पिछले 8-9 वर्ष से प्रदेश में धंधा एवं रोजगार की विकट स्थिति पर चिंता व्यक्त करते हुए मोहन डेलकर ने बताया कि प्रदेश में यह सबसे बडी एवं गंभीर समस्या है। इस स्थिति को हम सभी को बदलनी है। मोहन डेलकर ने कहा कि प्रदेश के उज्जवल भविष्य के लिए तमाम जिम्मेदारियां उठाने एवं किसी भी परिस्थिति एवं चुनौतियों का सामना करने के लिए मैं तैयार हूं। इस सम्मेलन में जिला पंचायत प्रमुख रमण काकवा, उपप्रमुख महेश गावित, डॉ. टी. पी. चौहाण, अभिनव डेलकर, सायली की सरपंच गीताबेन पटेल, जिला पंचायत सदस्य विष्णु वरठा, रखोली की सरपंच चंपाबेन पटेल, जिला पंचायत सदस्य चंदनबेन पटेल, बालदेवी से काउंसिलर सुमन पटेल, सायली से माधुभाई पटेल, रखोली से प्रभु पटेल, दीपक प्रधान सहित ग्राम पंचायत के चुने हुए सदस्यों सहित बडी संख्या में महिलाओं एवं युवा कार्यकर्ताओं की उपस्थिति रही  

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn



 दमण। दमण प्रशासन द्वारा सडकों के दोनों ओर जगह छोडने के नये नियम का गांव-गांव में विरोध हो रहा है। कांग्रेस पार्टी द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक, दमण-दीव कांग्रेस अध्यक्ष केतन पटेल को नये नियम के विरुद्ध में आंदोलन करने की मंजूरी प्रशासन द्वारा नहीं दिये जाने के बाद आज उन्होंने जनप्रतिनिधियों, युवाओं एवं कांग्रेस परिवार के साथ गांव-गांव घूमकर बरामदा बैठकें कर ग्रामीणों पर आने वाले संकट के बारे में ग्रामजनों को जानकारी दी। पटलारा, मगरवाडा, परियारी, दमणवाडा, मरवड, दलवाडा, भीमपोर, दुनेठा, वरकुंड, कडैया सहित अनेक गांवों में केतन पटेल ने गांवों की छोटी-छोटी सडकों के दोनों ओर 24 मीटर (78-78 फीट) जगह छोडने के नियम को जनविरोधी बताते हुए कहा कि यह नियम लागू हो जायेगा तो गांव के लोग अपनी जमीन में घर या दुकान नहीं बना सकेंगे। उन्होंने कहा कि अधिकारी दिल्ली से आते है और एसी चेम्बर में बैठकर दमण-दीव के लिए नियम बना देते है लेकिन उन्हें दमण-दीव की भौगोलिक परिस्थिति पता ही नहीं होती है। जिसके चलते आखिरकार जनता को भुगतना पडता है। दमण के सभी गांवों से सडकों को लेकर नये नियमों के खिलाफ एक सुर में विरोध की आवाज उठी। सभी नागरिकों ने नये ड्राफ्ट नोटिफिकेशन का सख्त शब्दों में विरोध करते हुए केतन पटेल का इस नियम के विरुद्ध चलाये जा रहे आंदोलन को पूरा समर्थन घोषित किया। केतन पटेल ने आज की सभी बरामदा बैठकों में उपस्थित रहने एवं आंदोलन में सहयोग घोषित करने के लिए सभी ग्रामजनों का आभार माना। साथ ही साथ इस संघर्ष को परिणाम तक जारी रखने का वचन भी दिया। गौरतलब है कि प्रशासन दमण के विभिन्न सडकों जैसे कि स्टेट हाईवे (कोस्टल), मेजर डिस्ट्रीक्ट रोड (दमण की मुख्य सडके ), अदर डिस्ट्रीक्ट रोड, विलेज रोड (गांव की सडकें) के दोनों तरफ 24 मीटर (78 फीट) से लेकर 75 मीटर (246 फीट) जगह छोडने का नियम अमल में ला रहा है। यह नया नियम लागू हो जाने के बाद छोटे से दमण-दीव का विकास संपूर्ण रुप से अटक जायेगा क्योंकि दमण-दीव ज्यादातर इन सभी सडकों के दोनों तरफ बसा हुआ है। खास करके गांवों के रास्तों के दोनों तरफ 78-78 फीट जगह छोडने का जो फरमान हो रहा है वह दमण-दीव के गांवों को हमेशा के लिए विकास रोकने वाला साबित होगा। कांग्रेस पार्टी ने कहा है कि प्रदेश की जनता पर अचानक आये हुए इस संकट के सामने पार्टी संघर्ष करेगी और नागरिकों के अधिकारों के लिए अंत तक संघर्ष जारी रखेगी।

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn
 डोनेट आइ डोनेट साइट “ सूत्र को सार्थक करने के लिये कार्यक्रम का आयोजन  
 
सूरत : लोक दृष्टि आइ बैंक & सकक्षम ( CAMBA ) प्रोजेक्ट की और से  श्री लक्ष्मीपति महावीर नर्सिंग स्कूल, नवसरी बाज़ार सूरत में दूसरे साल के तालीम अर्थी के लिये “ डोनेट आइ डोनेट साइट “ सूत्र को सार्थक करने के लिये कार्यक्रम का आयोजन  किया गया था आइ बैंक के प्रमुख डॉ प्रफुल्ल शिरोया ( रेड क्रॉस ब्लड बैंक , कामंडैंट of होमेगौर्ड्ज सूरत ) ने चक्षु दान के बारे में बताते हु ये बतायकी मृतुयु पस्स्च्यात छे घण्टे में चक्षु दान होसकता हे . क़ुदरत की ते अनमोलभेट जाते जाते किसी को देके जाना चाहये यही साँची सरधांजलि हे . समाती पत्रक भरे ने की बता इ थी ७८ तालिमर्थी बहेने ने अनुमति दी . दिनेशभाई पटेल ने आँख को संभलके राखेंने की बात की . आइ डोनेशन के ली ये 9825034591 , 9824146308 सम्पर्क करेने के लिये बताया था .
Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

 

 

दमण, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष केतन पटेल अपनी धर्मपत्नी अमी पटेल के साथ भूलाबाई उत्सव में मुख्य अतिथि के रूप में सम्मिलित हुए । सोमनाथ भवन, भेंसलोर में मराठी महिला समाज द्वारा आयोजित भुलाबाई उत्सव में पहुँचकर केतन पटेल और अमी पटेल ने देवी भुलाबाई की पूजा-आरती की और दमण-दीव सहित समग्र देश के लोक मंगल की कामना की। अपने संक्षिप्त संबोधन में केतन पटेल और अमी पटेल ने भुलाबाई उत्सव में सादर आमंत्रित करने पर आयोजकों का हार्दिक आभार व्यक्त किया। साथ ही दमण के विकास में मराठी समाज के लोगों के योगदानों को भी रेखांकित किया। उत्सव में पहुँचने पर दोनों अतिथियों का आयोजकों ने बड़ी आत्मीयता से स्वागत किया। मालुम हो कि भूलाबाई विदर्भ, महाराष्ट्र में पूजे जानी वाली लोक देवी हैं, जिन्हें धन्य-धान्य प्रदाता देवी माना जाता है।.

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn


दमण। दमण की प्रसिद्ध वैदिक डेंटल कॉलेज ने देश को आज और 93 डॉक्टर देकर राष्ट्रीय स्वास्थ्य में अपना महत्वपूर्ण योगदान देना जारी रखा है। आज वैदिक डेंटल कॉलेज की ईन्टर्न्स बैच के लिये पांचवें पदवीदान समारोह का आयोजन स्वामी विवेकानंद हॉल में किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन रोटरी इंस्टीटयूट ऑफ केमिकल टेक्नोलोजी के वाइस चेयरमैन अशोक पंजवानी, वैदिक डेंटल कॉलेज के चेयरमैन पद्मश्री डॉ. एस. एस. वैश्य, डीन डॉ. मनीष सिंहा, ट्रस्टी अस्पी दमणिया, दमण म्युनिसिपल काउंसिल प्रेसिडेंट मुकेश पटेल और डॉ. मुफ्ती के हाथों किया गया। यूनाइटेड फास्फोरस लि. के हाथों डिग्रीयां दी गई। इस अवसर पर 93 नये डॉक्टर्स को पदवी दी गई। मुख्य अतिथि यूनाइटेड फास्फोरस लिमिटेड के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर अशोक पंजवानी ने नए डेंटिस्ट डॉक्टरों को शुभकामनाएं देते हुए भविष्य में आगे बढ़ने की बधाई दी। साथ ही उन्होंने डॉक्टर की डिग्री हासिल करने वाले सभी डेंटिस्टो को बखूबी अपने कर्तव्यों का निर्वाह करने की सीख दी। इस अवसर पर वैदिक डेंटल कॉलेज के चेयरमैन पद्मश्री डॉक्टर एस.एस. वैश्य ने सभी डेंटिस्ट डॉक्टरों को डिग्री हासिल करने पर शुभकामनाएं दी। इसके साथ ही उन्होंने डेंटिस्ट डॉक्टरों का मार्गदर्शन करते हुए देश एवं विदेश में उनकी उपयोगिता पर जानकारी दी। पद्मश्री डॉक्टर एस. एस. वैश्य ने नए डॉक्टरों को किस तरह से मरीजों की देखभाल करना एवं सेवा देनी है इसके बारे में बताएं। इस अवसर पर अस्पी दमाणिया ने कहा कि 9 साल पहले दमण में कोई भी ऐसी संस्था नहीं थी जो विद्यार्थियों को डॉक्टर बना सके । इस बात को लेकर हमने डॉक्टर एस.एस. वैश्य से बातचीत की और वैदिक डेंटल कॉलेज की शुरुआत की। अस्पी दमणिया ने खुशी जताते हुए कहा कि आज हमारे विद्यालय से अनेक युवा डेंटिस्ट की डिग्री हासिल करके डॉक्टर बने हैं। उन्होंने सभी को उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर डिग्री प्राप्त करने वाले डॉक्टर्स, उनके अभिभावक, परिजन, कॉलेज का शैक्षिक स्टाफ, डॉ. बाबुभाई, डॉ. जेहान ईरानी, डॉ. संकेत, डॉ. मनीषा अग्रवाल उपस्थित रहे। सभी डॉक्टर्स को महानुभावों के हाथ बीडीएस की डिग्री प्रदान की गई। अंत में सभी डिग्री हासिल करने वाले डॉक्टर्स को महानुभावों ने बधाई दी और उज्जवल भविष्य की मंगल कामना की। कार्यक्रम का संचालन डॉ. जेहान ईरानी एवं डॉ. मनीषा अग्रवाल और डॉ. मुफ्ती ने किया।

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

एडिटर ओपेनियन

IPL की साख पर सवाल गलत: श्रीनिवासन

IPL की साख पर स...

नई दिल्ली।। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड...

अरुणाचल की तीरंदाजों को चीन ने दिया नत्थी वीजा!

अरुणाचल की तीरं...

नई दिल्ली।। अरुणाचल प्रदेश की दो नाबालिग...

फोटो गैलरी

Right Advt

Contact Us

    • Address: INDIA HIGHLIGHT, KRISHNA NEWS NETWORKS,
    • AT & POST: SANJAN-396150
    • SURATINDIA HIGHLIGHT, KRISHNA NEWS NETWORKS,
    • 84-ARIHANT PARK, CHAPPRA BHATHA ROAD, AMROLI, SURAT
    • Mob: +91.9228407101 Email: This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.  Website: http://indiahighlight.org/

3d Printer

About Us

India Highlight is one of the renowned media group in print and web media. It has earned appreciation from various eminent media personalities and readers. ‘India highlight’ is founded by Mr. Pinal Patel.